Skip to main content

Posts

Showing posts from August, 2014

अच्छे भाषण आने वाले हैं ! अच्छे दिन ?

नकल ही सही, पंडित नेहरु से प्रधान सेवक बनने की प्रेरणा तो ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर दिये गये पहले भाषण में खुद को देश का प्रधानमंत्री नहीं प्रधान सेवक कहा। जबकि यह लाइन भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु की थी। जिसे उन्होंने 15 अगस्त 1947 को दिये गये भाषण के दौरान कहा था। मलाल इस बात का है कि मोदी ने जहां पंडित नेहरु के भाषण की नकल की वहीं अपने भाषण में उनका जिक्र तक करने से परहेज किया। 
स्तंभकारों का कहना था कि नरेंद्र मोदी द्वारा स्वतंत्रता दिवस पर दिया गया भाषण परम्परागत या यथास्थितिवादी नहीं था। लेकिन, पूरे सम्मान के साथ, मैं विनम्रतापूर्वक कहना चाहता हूं कि मैं उनके निष्कर्ष से असहमत हूं। उनका भाषण पूरी तरह से परम्परागत या यथास्थितिवादी था। 
नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत ‘‘सभी पूर्व सरकारों और पूर्व प्रधानमंत्रियों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए की जिन्होंने आज के भारत को ऊंचाइयों तक पहुंचाने और गौरव दिलाने का प्रयास किया।’’ 
यह परम्परागत या यथास्थितिवाद नहीं था तो और क्या था? एक राजनेता की तरह बोलने की कोशिश करते हुए उन्होंने हर पूर्व …

Achhe Bhashan Ane Wale Hai, Achhe Din?

A Counter Point to PM Narendra Modi’s First Independence Day Speech 

Pratap Bhanu Mehta tells us that Narendra Modi’s Independence Day speech did not lean upon authority or pedigree. With due respect to him, I would like to humbly disagree with that conclusion. It leaned entirely on authority and past.

Narendra Modi while starting his speech paid respects and “gratitude to all those previous governments and ex-Prime Ministers who have endeavoured to take our present day India to such heights and have added to the country’s glory”

If he is not leaning on the past, the pedigree then what else it is. Trying to sound like a statesmen, he invokes the legacy of every former Prime Minister, every government and builds and authority around it. In his 2013, speech Prime Minister Dr Manmohan Singh named the former Prime Ministers who contributed to building the nation. So there is nothing new in what the present incumbent said.

Narendra Modi never fails to praise himself and his ‘pedigree’. J…